देश / लोगों के दिल में अनुच्छेद 370 को लेकर जो कसक थी वह मोदी जी ने उखाड़ फेंकी : अमित शाह

लोगों के दिल में अनुच्छेद 370 को लेकर जो कसक थी वह मोदी जी ने उखाड़ फेंकी : अमित शाह

मुंबई, 13 अक्टूबर महाराष्ट्र के कोल्हापुर में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए बीजेपी (BJP) अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) ने जम्मू और कश्मीर से अनुच्छेद 370 (Article 370) हाटने का जिक्र किया। अमित शाह ने कहा कि देश की जनता के सीने में अनुच्छेद 370 की कसक थी जिसे मोदी जी ने उखाड़ फेंका। बता दें इससे पीएम नरेंद्र मोदी ने भी जलगांव की रैली में 370 का जिक्र किया और विरोधियों पर निशाना साधा था।

अमित शाह ने कहा, 'देश और महाराष्ट्र की जनता ने नरेंद्र मोदी जी को 300 से अधिक सीटें दीं और मोदी जी ने सांसद के पहले ही सत्र में 70 साल से देश की जनता के सीने में कश्मीर के अनुच्छेद 370 को लेकर जो कसक थी, उसे 5 अगस्त को उखाड़ फेंका। 

केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा, 'मोदी जी ने एयर स्ट्राइक कराई, बालाकोट के आतंकी ठिकाने नष्ट कर दिए, सर्जिकल स्ट्राइक की और पाकिस्तानी आतंकवादियों को मार गिराया।

उन्होंने कहा, 'महाराष्ट्र की जनता के सामने 2 विकल्प हैं एक ओर मोदी जी, देवेंद्र फडणवीस जी और उद्धव ठाकरे जी के नेतृत्व में भाजपा और शिवसेना खड़ी है, तो दूसरी ओर राहुल बाबा और शरद पवार जी हैं । इन दोनों के बीच में महाराष्ट्र की जनता को निर्णय लेना है।'

पीएम मोदी ने भी किया 370 का जिक्र
इससे पहले पीएम मोदी ने भी जलगांव की चुनावी रैली में आर्टिकल 370 का जिक्र किया और कांग्रेस एनसीपी पर निशाना साधा। पीएम मोदी ने जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटने के फैसले पर बात करते हुए कहा, '5 अगस्त को आपकी भावना के अनुरूप बीजेपी- NDA सरकार ने एक अभूतपूर्व फैसला लिया। जिसके बारे में सोचना तक पहले असंभव लगता था।' 

पीएम मोदी ने कहा, 'एक ऐसी स्थिति जिसमें जम्मू कश्मीर के गरीब की, बहन-बेटियों की, दलितों और शोषितों के विकास की संभावनाएं नहीं के बराबर थी।' नरेंद्र मोदी ने कहा, 'जम्मू कश्मीर और लद्दाख सिर्फ जमीन का एक टुकड़ा नहीं है, वे मां भारती का शीष है, वहां का कण-कण भारत की शक्ति को मजबूत करता है।' 

पीएम ने साधा विपक्ष पर निशाना
पीएम मोदी ने कहा, 'दुर्भाग्य के साथ कहना पड़ रहा है कि हमारे देश के कुछ राजनीतिक दल, कुछ राजनेता, राष्ट्रहित में लिए गए इस निर्णय पर राजनीति करने में जुटे हैं।'
 
पीएम मोदी ने कहा कि बीते कुछ महीनों में कांग्रेस-एनसीपी के नेताओं के बयान देख लीजिए। जम्मू-कश्मीर को लेकर जो पूरा देश सोचता है, उससे एकदम उल्टा इनकी सोच दिखती है। इनका तालमेल पड़ोसी देश के साथ मिलता जुलता है।

पीएम ने कहा, 'आज मैं विरोधियों को चुनौती देता हूं कि आपमें अगर हिम्मत है तो इस चुनाव में भी और आने वाले चुनावों में भी अपने चुनावी घोषणा पत्र में ये ऐलान करें कि हम अनुच्छेद 370 को वापस लाएंगे। 5 अगस्त के निर्णय को हम बदल देंगे, नहीं तो ये घड़ियाली आंसू बहाना बंद करें'